नियमावली –2
अधिकारियों व कर्मचारियों के
अधिकार एवं कर्तव्य

कार्य और अधिकार

महानिदेशक

निम्समे संस्थान के ज्ञापन में किये गये उल्लेख के अनुसार, महानिदेशक की नियुक्ति भारत सरकार द्वारा की जाती है।

महानिदेशक के कार्य और अधिकार

महानिदेशक को शासी परिषद द्वारा प्रस्तावित कार्य एवं संस्थान के सभी अधिकारियों और कर्मचारियों का पर्यवेक्षण करना तथा नियमों का पालन करते हुए आवश्यक अनुशासन नियंत्रित करना होगा है।

महानिदेशक को संस्थान की सभी गतिविधियों में समन्वय करने और उनका सामान्य पर्यवेक्षण का दायित्व का निर्वाहन करना होगा।

संस्थान के दैनिक प्रबंधनकीय मामलों का दायित्व महानिदेशक का होगा और कार्यकारी समिति/ शासित परिषद के चेयरमैन के निर्देशन, पर्यवेक्षण और नियंत्रण के अधीन अपने अधिकारों का प्रयोग करना होगा।

मुख्य प्रशासनिक अधिकारी के कार्य और अधिकार

सचिव (मुख्य प्रशासनिक अधिकारी) कार्यालय का प्रधान होने के साथ-साथ संस्थान के लिए आहरित और भुगतान अधिकारी होगा और सभी ग्रूप-बी और सी कर्मचारियों के अनुशासनात्मक मामलों को छो़डकर सभी प्रशासनिक मामलों में प्रतिनिधित्व का अधिकार होगा। इन्हें कार्यालय के रखरखाव और हर बैठक से संबंधित मामलों में केवल 10,000 रुपये तक ही वित्तीय मंजूरी प्रदान करने का वित्तीय अधिकार भी प्राप्त है।

संगठन का स्वरूप

 उद्यम विकास स्कूल (सेड)

केन्द्रः

 औद्योगिक योजना और विकास केन्द्र (सी-आईपीडी)
  नीति अनुसंधान केन्द्र (सी-पीआर)
  एमएसएमई क्लस्टर विकास के लिए राष्ट्रीय स्रोत केन्द्र (एनआरसीडी)

प्रकोष्ठः

 निम्समे एनजीओ नेटवर्क (एन-क्यूब)
  आर्थिक जांच और सांख्यिकी (ईआईएससी)

 उद्यम प्रबंधन स्कूल (सेम)

केन्द्रः

 अग्रिम प्रबंधन अभ्यासिक उन्नति केन्द्र (सी-पीएएमपी)
  बौद्धिक सम्पदा अधिकार केन्द्र (सी-आईपीआर)
  सेंटर फॉर लॉजिस्टिक एंड इंटिग्रेटेड मटेरियल्स सिस्टम्स (सी-लैम्स)
  पर्यावरण चिंतन केन्द्र (सी-इको)
  औद्योगिक क्रेडिट एवं वित्तीय सेवा केन्द्र (सी-आईसीएफएस)

 

उद्यमिता और विस्तारण स्कूल (सी)

केन्द्रः  उद्यमिता एवं औद्योगिक विस्तारण केन्द्र (सी-ईआईई)
  परामर्श एवं सलाह केन्द्र (सी-सीसी)

 

 

प्रकोष्ठः

 कर्मचारी सहायता प्रकोष्ठ (ईएसी)
  महिला अध्ययन प्रकोष्ठ (डब्ल्यूएसई)

उद्यम सूचना एवं संचार स्कूल (सिक)

केन्द्रः

 संचार और सूचना प्रौद्योगिकी केन्द्र (सी-सीआईटी)
  लघु उद्यम राष्ट्रीय प्रलेखन केन्द्र (सेन्डॉक)

प्रकोष्ठः

 लाइव प्रॉजेक्ट सेल (एलपीसी)

निदेशक - कार्य और अधिकार

संबंधित केन्द्र और प्रकोष्ठ से संबंधित स्कूल का प्रधान होने के नाते निदेशक को कार्यक्रम और गतिविधियों की योजना बनाना, समझौता करना और शोध व परामर्श परियोजनाएँ तैयार करना, सभी गतिविधियों को सफलता से कार्य कर उनका पर्यवेक्षण और नियंत्रण करवाकर उपभोक्ताओं को संतुष्ट करवाने के कार्य का अधिकार होगा। गतिविधियों का आयोजन करने के लिए संकाय का मार्गदर्शन और पर्यवेक्षण करना। इन्हें हर गतिविधि के आय और व्यय की अनुमानित लागत तैयार करने और खर्चें को अधिक से अधिक नियंत्रित करते हुए उपभोक्ता को गुणवत्तापूर्ण संतोषजनक सेवा प्रदान करने का दायित्व सौंपा गया है।

संकाय और केन्द्र/प्रकोष्ठ-प्रधान-कार्य और अधिकार

संकाय और केन्द्र/प्रकोष्ठ के प्रधान का कार्य कार्यक्रम और गतिविधियों की योजना बनाना, समझौता करना और शोध व परामर्श प्रॉजेक्ट को तैयार करना, सभी गतिविधियों को सफलता से कार्य कर उनका पर्यवेक्षण और नियंत्रण करवा कर उपभोक्ता को संतुष्ट करने के कार्य का दायित्व व अधिकार दिया गया है। इन्हें हर गतिविधि के आय और व्यय की अनुमानित लागत तैयार करने और खर्चें को अधिक से अधिक नियंत्रित करते हुए उपभोक्ता को गुणवत्तापूर्ण संतोषजनक सेवा प्रदान करने का दायित्व सौंपा गया है।

कुलसचिव - कार्य और अधिकार

संकाय के एक सदस्य को राजिस्ट्रार के कार्य का दायित्व वहन करना होगा। इसके कार्य और अधिकार में सभी संकाय से सूचना एकत्र करना और राष्ट्रीय और अंतर्राष्ट्रीय कार्यक्रमों के कैलेंडर तैयार कर उसे उपभोक्ता संगठन तक मेल करना, राष्ट्रीय कार्यक्रमों से संबंधित कार्यों के लिए विभिन्न संगठनों से पत्राचार करना, परामर्श और अनुसंधान परियोजनाएँ तैयार करना आदि कार्य शामिल है और विदेश मंत्रालय, वित्त मंत्रालय, एएआरडीओ और अन्य विदेशी संगठनों के अंतर्ऱाष्ट्रीय कार्यक्रम, परामर्श, कार्य आदि के लिए विशेषकर गतिविधियों की निगरानी, प्रशिक्षण पूर्ण करने वाले प्रतिभागियों और शैक्षणिक मामलों से संबंधित प्रमाणपत्र जारी करने का कार्य करना आदि शामिल है।

छात्रावास प्रमुख-कार्य और अधिकार

संकाय के किसी एक सदस्य को छात्रावास प्रमुख के कार्य और दायित्व सौंपे जाते हैं, जो संस्थान में आने वाले प्रतिभागियों, अतिविशिष्ट व्यक्ति/अतिथियों को बेहत्तर आतिथेय प्रदान करने के लिए कार्य का पर्यवेक्षण और नियंत्रण का कार्य करते हैं। इनको गुणवत्ता बोर्डिंग सुविधा, चिकित्सा सुविधा के साथ-साथ अतिथि कक्ष के रखरखाव का कार्य सौपा गया है।

सहायक कुलसचिव - कार्य और अधिकार

सहायक कुलसचिव कार्यक्रम निदेशक और परिसर में विभिन्न कार्यक्रमों में आने वाले प्रतिभागियों के बीच समन्वयकर्ता का कार्य करते हैं। इनका कार्य उपभोक्ता संगठन के साथ पत्राचार करना, प्रत्येक कार्यक्रम में प्रतिभागियों का पंजीकरण करवाना और उनसे सहमति प्राप्त करना, कक्ष सुविधा उपलब्ध करवाना, प्रमाणपत्र तैयार करना, कार्यक्रम के अनुसार डाटा/ आंक़डे तैयार कर उनका रखरखाव करना, जारी गतिविधियों का मासिक विवरण पूर्ण करना और आगामी माह के कार्यक्रमों के मार्गदर्शन, नियंत्रण और अपने कर्मचारियों के कार्य और दायित्वों का पर्यवेक्षण आदि का कार्य करता है।

लेखा अधिकारी के कार्य और अधिकार

लेखा अधिकारी संस्थान के लेखा और वित्त प्रकोष्ठ का प्रधान होता है और वह सीधे ही आहरित और भुगतान अधिकारी मुख्य प्रशासनिक अधिकारी (सचिव) के निर्देशन के अधीन कार्य करता है। लेखा अधिकारी के कार्य अनुमानित वार्षिक बजट तैयार करना, आय और व्यय खाते की मासिक प्रगति रिपोर्ट तैयार करना, गतिविधियों और बैठकों से संबंधित आवश्यक खर्चों की निधि की योजना बनाना और विभिन्न कार्यों के लिए विभिन्न अधिकारियों को व्यक्तिगत खर्च के लिए दी गयी अग्रिम राशि, छटनी से संबंधित आडिट विवरण तैयार करना, खर्चों का नियंत्रण, लेखा खातों का रखरखाव, अचल सम्पत्ति, बैंक खाते, जिसके लिए तत्काल निधि की आवश्यकता न हो उन निधि निवेश के लिये योजना बनाने के साथ-साथ विभाग के स्टाफ के कार्य और दायित्व का मार्गदर्शन, नियंत्रण और पर्यवेक्षण का भी कार्य सौंपा गया है।

महानिदेशक कार्यालय से जु़ड़े कार्मिक सहायक/ आशुलिपिक

इनका कार्य में महानिदेशक की पेशी, बैठक के समय और स्थानीय महानिदेशक के दौरों से संबंधित कार्यों की योजना का समय निर्धारण, संस्थान का दौरा करने वाले विभिन्न वीआईपी/अतिथियों के लिए सुविधा उपलब्ध करवाने के साथ-साथ सचिवालय और पेशी में दर्ज किये गये कार्यों का निपटारा करना आदि शामिल है।

अधीक्षकों का कार्य और अधिकार

संबंधित विभाग के अधीक्षकों का कार्य प्रत्येक कार्य को समय पर पूर्ण करवाने के लिए कार्रवाई करना और विभाग के कर्मचारियों के कार्यों का पर्यवेक्षण करना है।

संबंधित पुस्तकालय अध्यक्ष के कार्य और अधिकार

सूचना का एकत्रीकरण, पुस्तकों और पत्रिकाओं की अधिप्राप्ति करना, पुस्तकालय विज्ञान के सदस्यों/उपयोगकर्ता के कार्य का सरलीकरण करना, विभिन्न पत्रिकाओं/पुस्तकों की तैयारी सुनिश्चित करवाकर उसे मुद्रित करवाने और सेनडॉक के प्रधान के तौर पर सभी मामलों में सहायता करना आदि शामिल है।

अन्य कर्मचारी -

सभी कर्मचारी जैसे वरिष्ठ आशुलिपिकों, फोटोग्राफरों, वरिष्ठ प्रशासनिक सहायकों, कनिष्ठ प्रलेखन सहायकों, प्रशासनिक सहायकों, कनिष्ठ प्रशासनिक सहायकों, दूरभाष ऑपरेटर, पुस्तकालय सहायकों का कार्य विभिन्न स्कूलों/ केन्द्रों/विभागों से संबंधित सेवाओं में अपनी सेवा प्रदान करना है।

तकनीकी कर्मचारी - इलेक्ट्रीशियन और प्लम्बर, बढ़ई

इलेक्ट्रीशयन का कार्य सब-स्टेशन का रखरखाव और अन्य बिजली कार्यों/ कनेक्शनों, सम्प, बोरवेल, पेयजलापूर्ति, ड्रेनेज और सिवरेज लाइन का रखरखाव करना है। बढ़ई का कार्य संस्थान में कारपेंट्री कार्य, मरम्मत आदि है।

ग्रूप-डी जिन्हें अब ग्रूप सी कर्मचारी माना जाता है, के कार्य

वार्ड की सुरक्षा और निगरानी, अधिकारियों और कर्मचारियों के कक्षों की साफ-सफाई और रखरखाव और अतिथिगृह, परिसर के साथ-साथ लॉन और बगीचे आदि का रखरखाव करना।