Minister

• प्रो. डेविड मॉक क्लिलान्ड के काकिनाडा प्रयोग (1964) के साथ उपलब्धियों की प्रेरणा में प्रारंभिक अनुसंधान अध्ययन का आयोजन किया गया।

• भारत में पहली कार्यकारी प्रयोगशाला का आयोजन किया गया । (1964)

• लघु एवं मध्यम उद्योगों के विकास में पहले अन्तर्राष्‍ट्रीय प्रशिक्षण कार्यक्रम का आयोजन किया । (1969)

• राष्‍ट्रीय लघु उद्यम प्रलेखन केन्द्र (सेन्डॉक) नामक विशेष सूचना केन्द्र की स्थापना की गयी (1971)।

• सिडो (एसआईडीओ) की स्थापना में टान्जानिया सरकार की सहायता की (1974)

• गौहाती में क्षेत्रीय केन्द्र की शाखा की स्थापना (1979)

• राष्‍ट्रीय स्तर प्राप्त कर राष्‍ट्रीय लघु उद्योग विस्तार प्रशिक्षण संस्थान के रूप में पुनः नामकरण किया गया (निसिएट) (1984)

• एस एण्ड टी उद्यमियों पर केस अध्ययन एवं विडियो प्रारूप बनाया गया (1986)

• लघु उद्योग प्रबन्धन (एसआईएमएसआईएम) के लिए छद्म कृतिकारक (सिम्युलेशन एक्सरसाइज) के बारे में पहली बार कम्प्यूटर सॉफ्टवेर पैकेज का विकास किया गया (1987); परियोजना आकलन एवं मूल्यांकन (सीएपीई) (1996).

• युनेस्को की अध्यक्षता (1997)

• आत्म-निर्भरता की प्राप्ति (2001-2002)

• युगान्डा, नमीबिया, दक्षिण अफ्रिका, भूतान, नैजीरिया, सूदान, केलिरॉन एवं घाना के साथ खरीदार से खरीदार (बी २ बी) लेन-देन (2000-07)

• नई दिल्ली में आयोजित सूलमउ (एमएसएमई) समूह विकास (क्लस्टर डेवलपमेंट) पर राष्‍ट्रीय कार्यशाला (2008)

• घाना बैंक के लिए अन्तर्राष्‍ट्रीय कार्यक्रम (2006-08)

• 28 अन्तर्राष्‍ट्रीय कार्यकारी विकास कार्यक्रमों का आयोजन कर सर्वकालिक रिकार्ड स्थापित किया। इनमें से 5 खास तौर पर अफ्रिकी देशों के लिए आयोजित किये गये थे। (2007-08)

• भारत-अफ्रिका शिखर सम्मेलन (2008) के अग्रगामी के रूप में अफ्रिकी महिला कार्यकारियों के लिए असीमित कार्यक्रम।

• बांग्लादेश लघु एवं गृह उद्योग निगम (बीएससीआईसी) के लिए वर्ष 2008-09 में अन्तर्राष्‍ट्रीय कार्यक्रम।